भाजपा को मिला देशव्यापी जन-समर्थन


म्मू-कश्मीर जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनावों में भाजपा की भारी विजय से इस क्षेत्र के राजनैतिक इतिहास का एक नया युग प्रारंभ हुआ है। डीडीसी चुनावों का सफलतापूर्वक संपन्न होना, भारी संख्या में मतदान एवं जिस प्रकार से पूरी चुनाव प्रक्रिया में जनता की भागीदारी रही, उससे जनता का राष्ट्रीय एकता, लोकतंत्र एवं विकास की राजनीति में अदम्य विश्वास प्रमाणित हुआ है। हालांकि, गुपकार गठबंधन के घटक दल अब भी आत्ममंथन करने से इंकार कर सकते हैं। अनेक क्षेत्रों में स्वतंत्र प्रत्याशियों की जीत से जम्मू-कश्मीर में ऐसे राजनैतिक नेतृत्व के अभ्युदय का संकेत मिलता है, जो जनाकांक्षाओं को पूरा करने में समर्थ हो। यह पूरी तरह से स्पष्ट है कि जम्मू-कश्मीर की जनता परिवारवाद की प्रतिगामी राजनीति, भ्रष्टाचार एवं अलगाववाद को नकार कर आने वाले दिनों में विकास एवं राष्ट्रीय एकता व अखंडता के युग का आलिंगन करना चाहती है। डीडीसी चुनावों से न केवल लोकतंत्र की जड़ें मजबूत हुई हैं, बल्कि इससे इस क्षेत्र में विकास का मार्ग प्रशस्त करने वाली प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों एवं कार्यक्रमों के प्रति जन-जन की आस्था भी प्रदर्शित हुई है।

पूरे देश में जनता भाजपा को विजय का आशीर्वाद दे रही है तथा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों एवं कार्यक्रमों को व्यापक समर्थन भी दे रही है। एक ओर जहां बिहार विधानसभा चुनावों में प्रदेश की जनता द्वारा राजग को चौथी बार स्पष्ट बहुमत का आशीर्वाद मिला, दूसरी ओर साथ में संपन्न हुए उपचुनावों में भी मध्य प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना एवं मणिपुर समेत पूरे देश में जनता का भरपूर आशीर्वाद भाजपा को मिला है। स्थानीय निकाय चुनावों में भी भाजपा को जबरदस्त सफलता मिली है। हैदराबाद महानगरपालिका चुनावों में भी देश के सभी राजनैतिक पंडितों को अचंभित करते हुए भाजपा ने अपनी सीट कई गुना अधिक बढ़ा ली है। चाहे बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद का चुनाव हो या अरुणाचल प्रदेश स्थानीय निकाय चुनाव या फिर लद्दाख पर्वतीय परिषद चुनाव हर जगह ‘कमल’ ही ‘कमल’ खिल रहा है। राजस्थान स्थानीय निकाय चुनावों में भाजपा ने ग्रामीण एवं शहरी, दोनों में आश्चर्यजनक प्रदर्शन किया। यहां तक कि केरल के स्थानीय निकाय चुनावों में भाजपा की सीटों में भारी बढ़ोतरी हुई है। आज जबकि जनता भाजपा को पंचायत से लेकर पार्लियामेंट के चुनावों में अपना भारी समर्थन दे रही है, यह स्पष्ट है कि भाजपा देशभर में जनाकांक्षाओं का प्रतीक बनकर उभरी है।

आज जबकि भाजपा के लिए पूरे देश में जनसमर्थन हर दिन व्यापक रूप से बढ़ रहा है, वहीं कांग्रेस एवं इसके सहयोगी दलों की जमीन पैरों तले खिसक चुकी है। पश्चिम बंगाल में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा के काफिले पर निंदनीय हमले से यह पूर्ण रूप से स्पष्ट हो जाता है कि प्रदेश की तृणमूल कांग्रेस सरकार काफी तिलमिलाई हुई है। अब जबकि तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल में अपनी बारी हार चुकी है, कांग्रेस स्वयं को हताशा में अपने विनाश की ओर धकेल रही है। हताशा एवं निराशा में कांग्रेस आज देश में विभाजनकारी तत्वों से मेलजोल कर ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के साथ खड़ी दिखती है तथा देश में विषवमन एवं कुप्रचार के माध्यम से भ्रम फैलाना चाहती है। इसका सबसे ताजा उदाहरण उसके द्वारा देश में व्यापक परिवर्तन लाने वाला किसान हितैषी कृषक सुधार कानूनों का आधारहीन विरोध है। इन क्रांतिकारी सुधारांे का समर्थन करने के स्थान पर यह किसानों के एक वर्ग में भ्रम फैलाकर देश में गतिरोध पैदा करना चाहती है।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी एवं करिश्माई नेतृत्व में भारत आज एक नए उत्साह एवं उमंग से भरा हुआ है। अमेरिका द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को ‘लीजन आॅफ मेरिट’ पुरस्कार वास्तव में भारत की जनता का अभिनंदन है जो बार-बार श्री नरेन्द्र मोदी को अपना आशीर्वाद दे रही है। भाजपा एवं प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत बनाने के आह्वान को मिल रहा भारी जनसमर्थन आज कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक देखा जा सकता है। आज जब एकता, अखंडता एवं विकास की नई गाथा लिखी जा रही है, भारत में लोकतांत्रिक प्रक्रिया के सुदृढ़ीकरण से देश नित नई ऊंचाइयां छू रहा है।

    shivshaktibakshi@kamalsandesh.org