देश ‘आत्मनिर्भर भारत’ के मंत्र के साथ आगे बढ़ चला है


आज जब कोविड-19 महामारी के विरुद्ध अपनी लड़ाई तेज करते हुए भारत ने विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया है, देश में घटते हुए कोविड-19 संक्रमण से जन-जन का आत्मविश्वास कई गुना बढ़ गया है। एक ओर जहां विश्व के सर्वाधिक विकसित देशों को भी इस दौरान गंभीर चुनौतियों का सामना करना पड़ा, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के करिश्माई एवं दूरदर्शी नेतृत्व में भारत ने पूरी तत्परता से संक्रमण को नियंत्रित किया, जिस कारण हर मानदंड पर इसका प्रभाव न्यूनतम रहा है। आज जब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दो ‘मेड इन इंडिया’ टीके के साथ विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत की है, तब इससे न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में आशा की किरण जगी है और अनेक देश भारत की ओर आशा एवं विश्वास से देख रहे हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वैश्विक मंचों पर निरंतर भारत के ‘वसुधैव कुटुंबकम’ के मंत्र का उद्घोष किया है तथा भारत के प्राचीन आदर्श ‘सर्वे भवंतु सुखिनः, सर्वे संतु निरामयाः’ पर अपना अटूट विश्वास दिखाया है तथा इन सिद्धांतों के आधार पर भारत अनेक देशों की सहायता के लिए पूरे महामारी के दौर में तत्पर रहा है।
पिछला वर्ष पूरे विश्व के लिए संकटों से भरा रहा तथा कोविड-19 महामारी ने भारत के समक्ष भी अनेक चुनौतियां प्रस्तुत की। एक ओर जहां पूरा देश प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हर चुनौती का सामना करते हुए पूरी दृढ़ता से खड़ा रहा, वहीं दूसरी ओर एक राजनैतिक दल के रूप में भाजपा ने पूरे विश्व में सेवा एवं समर्पण का एक अनुपम उदाहरण प्रस्तुत किया। इस चुनौतीपूर्ण काल में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने अपने कार्यकाल का एक वर्ष भाजपा संगठन को सेवा के पथ पर समर्पित करते हुए पूर्ण किया। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा एवं भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा के दिशा-निर्देश में करोड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने ‘सेवा ही संगठन’ के मंत्र पर स्वयं को समर्पित करते हुए देश के करोड़ों लोगों को इन मुश्किल हालात में भी उनका संबल बनकर राहत पहुंचाई। चाहे राशन किट वितरित करने की बात हो, मास्क एवं सैनिटाइजर उपलब्ध कराने की बात हो, कोरोना संक्रमितों अथवा वृद्धों की सेवा की बात हो या कोरोना योद्धाओं के मनोबल बढ़ाने की बात हो, भाजपा कार्यकर्ता जरूरतमंदों एवं संक्रमितों की सेवा में निरंतर समर्पित रहे तथा पूरे देश में व्यापक स्तर पर सेवा कार्य किया। यह करोड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं का समर्पित सेवा कार्य ही था कि पूरे देश में इस दौरान हुए विभिन्न चुनावों में जनता ने भाजपा को अपना भरपूर आशीर्वाद दिया। अपने एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित अपने पत्र में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने करोड़ों कार्यकर्ताओं के निःस्वार्थ समर्पण की प्रशंसा करते हुए पार्टी के उच्च आदर्शों एवं लक्ष्यों के प्रति निरंतर समर्पित रहने का आह्वान किया है।

एक ओर जहां वैज्ञानिकों, अनुसंधानकर्ताओं एवं विशेषज्ञों ने इतने सीमित समय में ‘मेड इन इंडिया’ टीके बनाकर पूरे देश को गौरवान्वित किया है, वहीं दूसरी ओर यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुट्ठी भर लोग देश की इस महान उपलब्धि को पचा नहीं पा रहे हैं। ये वही लोग हैं जो एक समय इस पर संदेह करते थे कि देश मास्क एवं सैनिटाइजर बना पाएगा या नहीं, परंतु आज भारत ने पर्याप्त संख्या में मास्क, सैनिटाइजर, पीपीई किट, चिकित्सकीय उपकरण, दवाइयों का न केवल निर्माण किया बल्कि उनका निर्यात भी कर रहा है और स्वास्थ्य केंद्रों को ‘मेड इन इंडिया’ वेंटिलेटर तक उपलब्ध कराया जा रहा है। अब इन सबों की बोलती बंद है। इन लोगों ने तो कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि भारत कोविड-19 टीका का भी निर्माण कर सकता है। यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ही थे जिन्होंने टीके निर्माण की प्रगति की निरंतर समीक्षा कर देश की प्रतिभा पर अपना पूर्ण विश्वास दिखाते हुए उन्हें लगातार प्रोत्साहित किया, जिसका परिणाम है कि आज भारत इस गौरवपूर्ण उपलब्धि को प्राप्त करने में सफल रहा। यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस नेतृत्व ने पूरी महामारी के दौर में देश के आत्मविश्वास को क्षीण करने का प्रयास किया तथा पूरे देश में आशंका एवं निराशा का वातावरण बनाना चाहा। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने अपने तीक्ष्ण प्रश्नों से राहुल गांधी की पूरे देश के सामने पोल खोल कर रख दी है। सच्चाई यह है कि राहुल गांधी एवं कांग्रेस के पास इन प्रश्नों का कोई उत्तर नहीं है। इनका झूठ बेनकाब हो चुका है तथा इनके वंशवाद एवं फरेब की राजनीति को जनता धूल चटा चुकी है। देश ‘आत्मनिर्भर भारत’ के मंत्र के साथ आगे बढ़ चला है।

                                                  shivshaktibakshi@kamalsandesh.org