जन-एकजुटता से होगी कोरोना पर विजय


क बार पुन: देश के ऊपर कोविड-19 महामारी का प्रकोप दिख रहा है। पहले से और भी कहीं अधिक इस महामारी के एकाएक उभरने और फैलने से देश के कई भागों में गंभीर स्थिति उत्पन्न हो गई है। एक ओर जहां महामारी से अनेक बहुमूल्य‍ जीवन देश खो रहा है, दूसरी ओर चिकित्सक, नर्स, स्वास्थ्यकर्मी, लैब टेकनीशियन, एंबुलेंस चालक, सफाईकर्मी, पुलिस एवं अन्य सुरक्षाकर्मी असंख्य कोरोना योद्धाओं के साथ मिलकर पूरे दमखम से इस महामारी के तूफान को रोकने में दिन-रात लगे हुए हैं। जहां महामारी की पहली लहर को रोकने में पूरा देश पूर्णत: सफल रहा था, वहीं दूसरी लहर का वेग अत्यधिक ज्यादा है और इसको नियंत्रित करने के हरसंभव प्रयास हो रहे हैं। ऐसे संकट की घड़ी में आमजन आगे आकर एक-दूसरे की सहायता कर रहे हैं और महामारी के ऊपर पुन: विजय प्राप्त करने की संकल्पशक्ति से भरे हुए हैं।
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 20 अप्रैल 2021 को राष्ट्र को संबोधित करते हुए आश्वस्त किया है कि सरकार जल्द से जल्द परिस्थितियों को सुधारने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। अनेक बैठकों के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने न केवल स्थितियों का आकलन किया है बल्कि सरकार के विभिन्न घटकों में सामंजस्य स्थापित करते हुए लोगों को तीव्र राहत पहुंचाने के लिए समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की है। देश के ग्यारह सर्वाधिक प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सभी प्रदेशों को महामारी के विरुद्ध लड़ाई में पूर्ण सहयोग का आश्वासन देते हुए ऑक्सीजन एवं खाद्य-सामग्रियों की समुचित व्यवस्था के लिए दिशानिर्देश दिए हैं। राज्यपालों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने केन्द्र, राज्य सरकारों एवं समाज के साथ सभी सामुदायिक संगठनों, राजनैतिक दलों एवं गैर सरकारी संस्थाओं के बीच समन्वय करने का आग्रह किया। उन्होंने कोविड-19 के लिए स्वास्थ्य सेवाओं की भी समीक्षा की तथा देश के अग्रणी चिकित्सकों, फार्मा कंपनियों के मालिकों एवं वैक्सीन निर्माताओं से चर्चा कर महामारी के विरुद्ध लड़ाई में सबको एकजुट किया है।
भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने भाजपा कार्यकर्ताओं को जरूरतमंदों को किसी भी हाल में राहत पहुंचाने का आह्वान किया। यह ध्यान देने योग्य है कि महामारी की पहली लहर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने ‘लॉकडाउन’ के दौरान ‘सेवा ही संगठन’ के मंत्र को आत्मसात कर करोड़ों जरूरतमंदों की देश भर में सहायता की थी। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अनेक प्रदेशों के सांसदों से संवाद करते हुए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने इन कठिन परिस्थितियों में ‘अपना बूथ-कोरोना मुक्त’ अभियान के माध्यम से लोगों की सेवा करने का आह्वान किया। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के दिशानिर्देशों में भाजपा सांसद भाजपा कार्यकर्ता एवं बूथ स्तर के पदाधिकारियों से निरंतर संपर्क में रहते हुए राहत कार्य चला रहे हैं। साथ ही भाजपा कार्यकर्ता टीकाकरण जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।
अचानक आए इस महामारी के तूफान के बीच प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी निरंतर स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं ताकि प्रभावित लोगों को शीघ्रातिशीघ्र ऑक्सीजन, दवाइयां एवं अन्य चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध हो सके। यह अत्यावश्यक है कि संक्रमित लोगों के लिए बेड की संख्या बढ़ाकर उनके उपचार के लिए सभी चिकित्सकीय व्यवस्था सुनिश्चित हो। एक ओर जहां ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ तथा वायुयानों के माध्यम से पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के प्रयास हुए हैं, दूसरी ओर ऑक्सीजन उत्पादन करनेवाली निजी एवं सरकारी क्षेत्रों की कंपनियों से भी सहायता ली जा रही है। फार्मा क्षेत्र के माध्यम से आवश्यक दवाइयों की आपूर्ति को सुनिश्चित किया जा रहा है। टीकाकरण के लिए ‘टीका उत्सव’ के बाद अब 18 वर्ष के ऊपर के सभी लोगों के लिए 1 मई 2021 से ‘व्यापक टीकाकरण अभियान’ शुरू किया जा रहा है। पूरे देश में पीएम केयर्स फंड के माध्यम से 551 ऑक्सीजन प्लांट लगाने तथा एक लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की स्वीकृति प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दी गई है। इसमें कोई संदेह नहीं कि जन-एकजुटता से इस महामारी का सामना देश करेगा और उस पर निश्चित विजय प्राप्त होगी।

shivshaktibakshi@kamalsandesh.org