सभी दलों के लोग अटलजी को अपना मानते थे

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जन्मदिवस (25 दिसंबर) पर विशेष लेख प्रभात झा पिछले सात दशक की राजनीति में भारत में एक व्यक्तित्व उभरा और देश ने उसे सहज स्वीकार किया। जिस तरह इतिहास घटता है, रचा नहीं जाता; उसी तरह नेता प्रकृति प्रदत्त प्रसाद…


भाजपा को राज्य में पिछले पांच वर्षों के दौरान सुशासन, पारदर्शी और स्थिर सरकार देने का लाभ मिलेगा : ओपी माथुर

झारखंड विधानसभा चुनाव एवं राज्य सरकार की उपलब्धियों को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और झारखंड चुनाव प्रभारी श्री ओम माथुर से नई दिल्ली स्थित उनके निवास पर कमल संदेश के विपुल शर्मा ने बातचीत की। श्री माथुर का कहना है कि झारखंड में भाजपा…


अपनी विचारधारा सहयोग पर आधारित

दीनदयाल उपाध्याय गतांक का शेष….. पाश्चात्य जगत में यह मानकर चलते हैं कि इस प्रकार के संघर्ष, इस प्रकार की लड़ाई, इस प्रकार का वर्ग संघर्ष यह उनके सारे विचार की भूमिका है। यह आज की उनकी भूमिका नहीं है, बिल्कुल प्रारंभ की है। ईसाइयों…


विजया राजे सिंधिया : त्याग एवं समर्पण की प्रतिमूर्ति

                             (12 अक्टूबर, 1919 – 25 जनवरी, 2001)  राजमाता विजया राजे सिंधिया का जन्म 12 अक्टूबर 1919 सागर, मध्य प्रदेश के राणा परिवार में हुआ था। राजमाता विजया राजे सिंधिया के पिता…



OUR PUBLICATION View All